ताज़ा रेजगारी

ट्रैवल राइटिंग

यात्राएँ ख़ुद को जानने का सबसे बेहतर ज़रिया होतीं हैं

May 1, 2019 // 0 Comments

“ख़ुद को जानने का सबसे बेहतर ज़रिया यात्राएँ ही होतीं हैं। यात्राएँ आपको यह बताती हैं कि आप एक इंसान के तौर पर कितने संवेदनशील हैं !” – यह मानना है लेखक, पत्रकार और फोटोग्राफर उमेश पंत जी का। हिन्द युग्म द्वारा प्रकाशित यात्रा वृतांत ‘इनरलाइन पास’ के लेखक उमेश पन्त ने अपने करियर की शुरुआत बालाजी टेलीफिल्म्स में स्क्रीनप्ले राइटर के तौर पर की थी। रेडिओ शो ‘यादों का इडियट READ MORE