ताज़ा रेजगारी

दमन

इतवारी शामों में सुकून के किनारे

May 28, 2014 // 0 Comments

Mumbai Diary 7 ( February 2012) मुम्बई और मेरे रिश्ते की उम्र आज एक साल एक महीना और कुछ 7 दिन हो चुकी है… ये शहर मेरे लिये अब उतना अजनबी नहीं रह गया है…. जैसे जैसे अजनबियत खत्म होने लगती है… वैसे वैसे रहस्य छंटने लगते हैं… नयापन धुंधला होने लगता है… पुरानापन हावी होने लगता है… आकर्षण खत्म होने का डर लगने लगता है… पर मायानगरी मुम्बई के अनुभवों के इस अथाह समुन्दर के लिये मेरे ही क्या हर किसी के READ MORE