ताज़ा रेजगारी

ब्लू वैवेट

ब्लू वेल्वेट- माने मखमल के उस पार

March 31, 2011 // 1 Comment

परसों रात दो बजे जब फाईनली डिसाईड हो गया कि आज नीद नहीं ही आयेगी तो अपने फिल्मों के कलेक्शन पे गौर किया। रात काटने का ये एक बेहतरीन विकल्प मालूम हुआ। ब्लू वेल्वेट। डेविड लिंच की ये फिल्म किसी तरह छूट गई थी। सोचा देखी जाये। देखने के बाद लगा कि इसे देखने का इससे बेहतर वक्त शायद कोई और नहीं हो सकता था। अगर आपने अल्फ्रेड हिचकौक की फिल्म साईको देखी हो और आपको उस जौनर की फिल्में पसंद हों तो READ MORE