ताज़ा रेजगारी

आय हाय रे मिजाता

उत्तराखंड के लोक-गायक ‘हीरा सिंह राणा’ की गीतों के क्रम में एक और गीत ‘गुल्लक’ के ज़रिये आपको सुनाया जा रहा है.. ‘मिजाता’ नाम के इस गीत में प्रकृति और एक सुन्दर कन्या दोनों की सुन्दरता को बड़ी मासूमियत से दर्शाया गया है. सुनिए और गीत की लिखाई और अदायगी दोनों का लुत्फ़ उठाइये.

 

Comments

comments

Leave a Reply

1 Comment on "आय हाय रे मिजाता"

Notify of
avatar
Sort by:   newest | oldest | most voted
pankajrawat
Guest

Thanks for sharing, one of my favorite kumaoni song.

wpDiscuz